सज्जन जिंदल के जरिए मोदी ने शरीफ को भेजा गुप्त संदेश!

सज्जन जिंदल के जरिए मोदी ने शरीफ को भेजा गुप्त संदेश!
कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा के बाद रिश्तों में तल्खी के बीच भारतीय स्टील कारोबारी सज्जन जिंदल

इस्लामाबाद।कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा के बाद रिश्तों में तल्खी के बीच भारतीय स्टील कारोबारी सज्जन जिंदल ने पाक पीएम नवाज शरीफ से बुधवार को एक घंटे तक मुलाकात की है।

 मुलाकात के बाद पाक में कयासों का दौर जारी है कि भारत और पाक के बीच बातचीत शुरू हो सकती है। वहीं पाक मीडिया इसे गुप्त बैठक बता रहा है। जबकि क्रिकेटर इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने आरोप लगाया कि शरीफ और जिंदल की गुप्त बैठक में उद्योगपति जिंदल कुलभूषण जाधव के मुद्दे पर भारतीय पीएम मोदी का संदेश लेकर आए थे।

 इसके बाद शरीफ की बेटी मरियम ने ट्वीट कर कहा कि जिंदल और शरीफ की दोस्ती काफी पुरानी है और बुधवार को हुई उनकी मुलाकात भी दोस्ताना ही थी।

पर्दे के पीछे की डिप्लोमेसी बताया

पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद कसूरी ने अखबार डॉन से जिंदल के इस दौरे को पर्दे के पीछे की डिप्लोमैसी कहा है। उन्होंने कहा कि कई अच्छे नतीजे पर्दे के पीछे की मुलाकातों से सामने आते हैं। दूसरी तरफ़ पाकिस्तान की विपक्षी पार्टियों ने इस यात्रा को गोपनीय रखने की आलोचना की है।

स्वागत के लिए एयरपोर्ट गए नवाज के बेटे व दामाद

डॉन ने मीडिया रिपोर्ट के हवाले से बताया है कि जिंदल का स्वागत करने के लिए बेनज़ीर भुट्टो अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर नवाज शरीफ के बेटे हुसैन नवाज और दामाद राहील मुनीर मौजूद थे।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून

एससीओ में मोदी से हो सकती है मुलाकात

अखबार ने कहा कि यह शंघाई में होने जा रहे एससीओ सम्मेलन में दोनों देशों के पीएम की मुलाकात तय करने के सिलसिले में ही सज्जन नवाज से मिले। एससीओ इसी साल जून में आयोजित होगा। जिंदल पर वीजा नियमों के उल्लंघन का आरोप भी लगाया।

द डॉन


मुलाकात सार्वजनिक करने की मांग

पंजाब असेंबली में मियां महमूद राशीद ने इस मुलाकात के एजेंडे और बातचीत को सार्वजनिक करने की मांग की है।

द न्यूज

अखबार ने लिख, इस मुलाकात को दोनों देशों के बीच बढ़ते तनाव को कम करने के रूप में देखा जा रहा है।