गौरव चंदेल के परिवार से मिलने पहुंचे आईजी, चार दिन बाद भी आरोपी पकड़ से दूर

गौरव चंदेल के परिवार से मिलने पहुंचे आईजी, चार दिन बाद भी आरोपी पकड़ से दूर
गुरुग्राम से घर लौट रहे निजी कंपनी के सेल्स मैनेजर की नोएडा के हिंडन पुल स्टेडियम के पास बीते सोमवार रात बदमाशों ने सिर में गोली मारकर हत्या कर दी थी। अब पांच दिन बाद यूपी पुलिस के आईजी गौरव चंदेल के परिजनों से मिलने उनके घर पहुंचे हैं। मालूम हो कि चार दिन बाद भी पुलिस आरोपियों को पकड़ नहीं पाई है। इस मामले में गौरव का परिवार शुरू से ही पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा रहा है।गौरतलब है कि वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश पर्थला गोलचक्कर से एक किलोमीटर आगे व गौड़ गोल चक्कर से तीन सौ मीटर पहले सर्विस रोड के किनारे शव फेंककर फरार हो गए। बदमाश उनकी नई कार, नकदी, दो मोबाइल और लैपटॉप लूटकर ले गए। परिजनों ने मामले में फेज तीन थाने में मामले की शिकायत दर्ज कराई है।

पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ दर्ज किया है मामला
पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ हत्या, सबूत मिटाने और लूट की धाराओं में मामला दर्ज किया है। मामले की जांच में दो टीमों को लगाया गया है। मूलरूप से नजीराबाद थाना क्षेत्र के अशोक नगर निवासी गौरव चंदेल (40)  ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित गौड़ सिटी 5 एवेन्यू के आई-1272 में अपनी पत्नी प्रीति, बेटे आदित्य (11) व मां प्रेमलता के साथ रहते थे।

वह उद्योग विहार, गुरुग्राम फेज-4 स्थित बहुराष्ट्रीय कंपनी थ्रीएम इंडिया कंपनी में सेल्स मैनेजर थे। उनके पिता विजय सिंह का निधन हो चुका है। परिजनों के मुताबिक, सोमवार रात करीब 8 बजे वह अपनी नई कार सेल्टॉस से ऑफिस से घर के लिए निकले थे।

5 से 10 मिनट में घर पहुंचने की बात की थी और....
नोएडा में प्रवेश करने के बाद पत्नी प्रीती ने गौरव को रात करीब 10:30 बजे फोन किया। करीब दो मिनट तक बात हुई। गौरव ने अपनी लोकेशन पर्थला चौक बताते हुए कहा कि 5 से 10 मिनट में घर पहुंच जाऊंगा।

करीब आधे घंटा बीत गया, लेकिन गौरव घर नहीं पहुंचे। इसके बाद प्रीती ने दोबारा फोन किया, लेकिन फोन लगातार स्विच ऑफ जाने लगा। प्रीती ने गौरव के दोस्त को फोन किया। उसने भी किसी तरह की जानकारी न होने की बात कही। इसके बाद परिजनों ने मिलकर गौरव की तलाश शुरू की।