दो महीने बाद घरेलू उड़ान भरने को तैयार विमान, यात्रियों को रखना होगा इन चीजों का ख्याल

दो महीने बाद घरेलू उड़ान भरने को तैयार विमान, यात्रियों को रखना होगा इन चीजों का ख्याल

स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि भारत में कोरोना से होने वाली मौतों के मामले में भारत की स्थिति दुनिया से बेहतर है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि भारत में कोरोना से मरने वालों की संख्या 0.2 व्यक्ति प्रति लाख व्यक्ति है जबकि कोरोना प्रभावित करीब 9-10 देशों में 10 व्यक्ति प्रति लाख व्यक्ति है। अग्रवाल ने कहा कि शुरू में हमारे यहां रिकवरी रेट 7.2 था और दूसरे लॉकडाउन के समय 11.42% हुआ और धीरे-धीरे बढ़कर ये 26.59% पहुंचा और अब ये रेट 39.62% यानि कि 40% लोग जो कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे वो ठीक हो चुके हैं।

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के रिकॉर्ड 5611 नए मामले दर्ज किए गए। इसी के साथ अब भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 लाख 6 हजार 750 पहुंच गई है। एक दिन में 140 लोगों की मौत के साथ ही अब देश में कुल 3303 लोग वायरस से जान गंवा चुके हैं। देश में सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों की बात की जाए, तो महाराष्ट्र में हालात काफी खराब हैं। यहां अब पीड़ितों की संख्या 37 हजार के पार पहुंच गई है। वहीं, 24 घंटे में 76 नई मौतों के साथ अब मृतकों की संख्या 1325 हो गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि कोविड-19 के जिन मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है उनमें से करीब 2.94 फीसदी को ऑक्सीजन की मदद की जरूरत है, तीन फीसदी को आईसीयू की और 0.45 फीसदी को वेंटीलेटर की मदद चाहिए। कोविड-19 से स्वस्थ होने की दर फिलहाल 39.62 फीसदी है जो लॉकडाउन की शुरुआत में 7.1 फीसदी थी। मंत्रालय ने कहा कि देश में प्रति एक लाख की आबादी में 7.9 फीसदी लोग कोविड-19 से प्रभावित है।

Tags: